Wednesday, 20 June 2012

मॉ वरूणा को बचाने के लिये हुआ यज्ञ



मॉ वरूणा को बचाने के लिये दानुपुर में ग्रामीणों संग यज्ञ करते गोरक्षा प्रमुख राधेश्याम सिंह उर्फ लल्लू  बाबा

वरूणा को बचाने के लिये ग्रामीणों ने मंगलवार को सायंकाल सेवापुरी ब्लाक के  दानुपुर गॉव स्थित प्राचीन काली मंदिर पर यज्ञ किया जिसमें सरकार द्वारा वरूणा पर ध्यान न दिये जाने पर रोष प्रकठ करते हुए गोरक्षा प्रमुख राधेश्याम सिंह उर्फ लल्लू बाबा ने कहा कि प्रशासन द्वारा ध्यान न दिये जाने के कारण वरूणा आज अस्तित्वीन हो गयी है तथा नदी की सफाई न होने से इसमें मिट्टी इतना ज्यादा जमा हो गयी हैं कि पानी एकत्र ही नहीं हो पाता है जिस कारण गर्मी में वरूणा पुरी तर सूख जाती है तथा इसमें नालों,कल कारखानों तथा सीवर आदि का गन्दा पानी बहाये जाने से अब जलीय जीव जन्तु भी नाम मात्र ही बचे हैं उन्होनंे कहा कि समय समय पर सरकार द्वारा वरूणा को प्रदुषण मुक्त करने की तमाम योजनाऐं सामने आती हैं लेकिन कोई योजना कारगर रूप से लागु नहीं हो पाती है वरूणा को बचाने के लिये आज सभी को आगे आना होगा नहीं तो मोक्षदायिनी वरूणा केवल इतिहास के पन्नों में शामिल होकर रह जायेगी। यज्ञ में पं0 सभाजित पाण्डेय आचार्य, धनन्जय पाध्याय, राजन्द्र सिंह, सन्तोष मौर्या, जय प्रकाश पटेल, विनोद विष्वकर्मा,  महेन्द्र सिंह चन्देल, प्रेम नारायण पटेल, अभिषेक सिंह, बैजनाथ पटेल, गुलाब सिहं, देवानन्द सिंह, विशाल कुमार,शान्ति सिंह, त्रिलोकी पाण्डेय सहित सैकड़ों लोग शामिल थे। 20-06-2012 को खरगुपुर से पदयात्रा निकाली जायेगी। राष्टीय सहारा वाराणसी पत्रकार रामेश्वर प्रवीन यादव प्रकाशित तिथि 20-06-2012 पेज-6
Post a Comment