Friday, 24 April 2015

सेवानिवृत्त चपरासी से एक लाख सत्तर हजार की ठगी।

जाँच करती पुलिस और रामफेल पटेल 
वाराणसी। बड़गॉव थानान्तर्गत बीरापट्टी गॉव निवासी सेवानिवृत्त चपरासी से शुक्रवार को सुबह 10:30 पर एक लाख सत्तर हजार की ठगी करने के बाद ठग आसानी से फरार हो गये उसके बाद पीडित ने 100 नम्बर डायल कर पुलिस से लूट का मामला बता दिया पुलिस मौके पर पहुची तो मामला ठगी का निकला।

रामफल पटेल इण्टर कालेज बीरापट्टी के सेवानिवृत्त चपरासी हैं। उन्होनें बताया कि गुरूवार को ये खेत में काम कर रहे थे उसी दौरान मोटरसाईकिल से एक आदमी आया और इनके खेत को समतल करने की बात करने लगा तथा इनका खेत देखने के बाद इनका नाम पता नोट करके चला गया और शुक्रवार को सुबह दूसरा आदमी मोटरसाईकिल से इनके घर आया उसके साथ मे कुछ मजदूर भी थे। वह इनसे पूछा कि आपने खेत समतल करवाने के लिये नाम दर्ज कराया है हम सरकारी मशीन लाकर खेत समतल करेंगे पूरे छ: लाख रूपये लगेंगे जिसपर वे खेत समतल करने से मना कर दिये तो उक्त व्यक्ति ने उन्हें बताया कि आपको इसके लिये सजा हो सकती है यदि आप खेत समतल करवाना चाहते हैं तो मुझे एक लाख सत्तर हजार रूपया दे दीजिए मैं अधिकारियों से बात करके इतने में ही काम करवा दूॅगा रामफल तैयार हो गये और अपने बेटे मुन्ना पटेल के साथ बीरापट्टी स्थित यूबीआई बैंक गये और एक लाख सत्तर हजार रूपया निकाल कर दे दिये वह बोला की अभी मजदूर काम कर रहे हैं थोड़ी देर में मशीन आपके खेत में चली जायेगी और वह आदमी रूपया लेकर फरार हो गया इधर जब रामफल ने पूरी बात अपने बेटे मुन्ना से बताई वह भागे दौड़े खेत मेंं पहुचा तो देखा मजदूर भी गायब थे उसने तत्काल पुलिस को सूचना दिया कि एक लाख सत्तर हजार की लूट हो गयी है मौके पर सीओ बड़ागॉव व थानाध्यक्ष पहुचे और पूरे मामले की जानकारी लिये। इस बारे में थानाध्यक्ष बड़गॉव से बात किया गया तो उन्होंने बताया कि दो अज्ञात लोगों के खिलाप धारा 419 व 420 के तहत रिपोर्ट दर्ज कर ​तलाश जारी है। 
प्रवीन यादव यश के एफबी वाल से 
Post a Comment